Sunday, 5 January 2014

बेवफ़ाई शायरी





 बेवफ़ाई शायरी

हम तो तेरे दिल की महफ़िल सजाने आए थे;
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आए थे;
किस बात की सजा दी तुने हमको बेवफा;
हम तो तेरे दर्द को अपना बनाने आए थे।

1 comment:

  1. These are very nice collection of poetry but my hindi is not that good. Do you have Urdu Poetry or Roman Hindi It will help me a lot.

    ReplyDelete